Thursday, June 28, 2018

Lauq Sapistan Benefits | लऊक़ सपिस्ताँ के फ़ायदे | unanitimes


लऊक़ सपिस्ताँ यूनानी दवा है जो सर्दी, खाँसी,जुकाम, टॉन्सिल्स और गले की ख़राश में असरदार है. तो आईये जानते हैं लऊक़ सपिस्ताँ का नुस्खा, इसके फ़ायदे और इस्तेमाल की पूरी डिटेल -

लऊक़ सपिस्ताँ जैसा कि इसके नाम से ही पता चलता है सपिस्तान नाम की बूटी से बनी लऊक वाली दवा. यूनानी में लऊक़ का मतलब होता है ज़बान से चाटकर खाने वाली दवा या Linctus.

लऊक़ सपिस्ताँ का नुस्खा या कम्पोजीशन

इसके नुस्खे या कम्पोजीशन की बात करें तो इसमें कई तरह की जड़ी-बूटियाँ मिली होती हैं जैसे -

सपिस्तान कलां, उनाब, पोस्त खसखस, अस्ल-ऊस-सूस, पर्सियोषण, तुख्म खत्मी, तुख्म खुब्बाज़ी, बीहिदाना, शीरा मगज़ बादाम, शीरा तुख्म खसखस, कतीरा, सुमक अरबी, रब-ए-सूस और मिस्री जैसी चीजें मिली होती हैं.

लऊक़ सपिस्ताँ के फ़ायदे

सर्दी-खाँसी, नज़ला-जुकाम, गले की ख़राश, टॉन्सिल्स और गले की सुजन और इन्फ्लुएंजा जैसी प्रॉब्लम में ख़ासकर इसका इस्तेमाल किया जाता है.

यह कफ़ को पतला कर निकाल देती है, गले को ठीक करती है, गले की Inflammation और इन्फेक्शन को दूर करती है.

यह नेचुरल Expectorant की तरह काम करता है, बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के.

लऊक़ सपिस्ताँ का डोज़ और इस्तेमाल करने का तरीका

10 से 20 ग्राम तक 100ML अर्क गाओज़बां या फिर गुनगुने पानी से सुबह शाम लेना चाहिए. या फिर डॉक्टर की सलाह से मुताबिक. यह बिल्कुल सेफ़ दवा है, किसी तरह का कोई साइड इफ़ेक्ट या नुकसान नहीं होता है. इसके 60 ग्राम के पैक की क़ीमत क़रीब 58 रुपया है जिसे यूनानी दवा दुकान से या फिर ऑनलाइन खरीद सकते हैं.



No comments:

Post a Comment